लक्ष्मी पूजन का मुहूर्त

महालक्ष्मी पूजन अमावस्या तिथि, प्रदोषकाल, शुभलग्न चौघडिय़ा में करनी चाहिए। पूजन सायंकाल प्रदोषकाल करें तो सबसे उत्तम है। रविवार को प्रदोषकाल सायंकाल 7 बजकर 30 मिनट से 9 बजकर 30 मिनट तक रहेगा। अत: लक्ष्मी पूजन का यह सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त है। वहीं दुकान, फैक्ट्री, और कार्यालयों में सुबह, दोपहर रात को पूजन कभी भी किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *