पुलिस की हिरासत में युवक की मौत

-मैस का खाना खाने के बाद बिगड़ी थी तबीयत
चूरू। जिले के रतनगढ़ थाने में पुलिस हिरासत में लिए गए 7 वांछित मामलों में आरोपी चन्दनमल की देर रात पुलिस थाने में संदिग्ध हालत में मौत हो गई।
मौत की भनक लगते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मंच गया। रात को ही अस्पताल व रतनगढ़ थाने पर चार थानों के थानाधिकारी और पुलिस बल तैनात कर दिया गया। एसपी राहुल बारहट, सुजानगढ़ डीएसपी योगेंद्र फौजदार और चूरू एएसपी केशर सिंह शेखवात सहित अन्य पुलिस अधिकारी भी रात को ही रतनगढ़ पहुंच गए। सादुलपुर, सरदारशहर, राजलदेसर, रतनगढ़ और पुलिस लाइन से अतिरिक्त जाब्ता भी रतनगढ़ थाने और अस्पताल में तैनात किया गया है।
रतनगढ़ पुलिस देर रात आरोपी चन्दनमल को 307 के एक मामले में गिरफ्तार करके लाई थी। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार गिरफ्तारी के 45 मिनट बाद चंदनमल ने थाने के मैस का खाना खाया था, जिसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई और रतनगढ़ पुलिस रात 10 बजकर 50 मिनट पर उसे अस्पताल लेकर आई थी, जहां पर डॉक्टरों ने स्ट्रेक्चर पर ही उसकी ईसीजी की और उसे मृत घोषित कर दिया।
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार तीन वर्दी और एक सिविल ड्रेस में पुलिस के जवान युवक को अस्पताल लेकर आए थे। गौरतलब है कि चन्दनमल चूरू जिले की सादुलपुर तहसील के गांव बुंगी का रहने वाला था और प्राणघातक हमले सहित 7 मामलों में वांछित चल रहा था। इसी मामले में राजलदेसर निवासी इन्द्र सोनी को भी रतनगढ़ बस स्टैंड से शाम को ही गिरफ्तार किया गया था। दोनों पर बोलेरो जीप से जान से मारने की नीयत से टक्कर मारने का मामला दर्ज है। मला राजलदेसर निवासी एडवोकेट रामकिशन सैनी ने 24 जनवरी को पर्चा बनाया के माध्यम से दर्ज करवाया था।
इधर, आरोपी की मौत के बाद जांगिड़ समाज के अध्यक्ष सीताराम जांगिड़ के नेतृत्व में भारी संख्या में समाज के लोग मौके पर एकत्र हो गए। मृतक के परिजन भी रतनगढ़ पहुंच गए। अस्पताल में लोगों की भीड़ लग गई, वहीं कांग्रेसजन भी अस्पताल पहुंचे। कांग्रेस नेता पूसाराम गोदारा और प्रधान गिरधारीलाल बांगडवा के नेतृत्व में लोगों ने पुलिस से मृतक के परिजनों से मिलवाने की बात कही। लोगों का आरोप था कि रात के समय जब परिजनों को पुलिस गांव से लेकर आ गई, तो उनसे मिलने क्यों नहीं दिया जा रहा है। वहीं मृतक का दूसरा साथी पुलिस गिरफ्त में है। सूत्रों ने बताया कि पूरे मामले की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए गए हैं। सीजेएम के निर्देशन में एसीजीएम रतनगढ़ मामले की जांच करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *