राजसमंद हत्याकांड प्रकरण ; उदयपुर में माहौल बिगड़ा, पुलिस ने किया लाठीचार्ज


-रैली निकालने जा रहे उपदेश राणा को जयपुर जिले की बगरू पुलिस ने गिरफ्तार किया
-इंटरनेट पर 24 घण्टे का बैन
जयपुर/उदयपुर। राजसमन्द में हिन्दुत्व के नाम पर एक व्यक्ति की हत्या करने और उसका वीडियो वायरल का प्रकरण अब तूल पकड़ चुका है। इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर कई भड़काउ भाषणों वाले वीडियो वॉयरल हुए और गुरुवार को वहां हत्या के आरोपी शंभूनाथ के पक्ष में और दूसरे समुदाय ने विरोध में रैली निकालने की कोशिश भी की। इसके बाद उदयपुर में कई जगह पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।
गुरुवार को भीड़ राजसमंद लाइव मर्डर के बाद एक विशेष समुदाय की ओर से निकाले गए जुलूस व भड़काऊ नारों के विरोध में माहौल बिगड़ गया। शहर में धारा 144 लगी थी और इसके उल्लंघन पर भीड़ को खदेडऩे के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इससे पहले राजसमंद लाइव मर्डर मामले को लेकर उदयपुर में रैली निकालने जा रहे उत्तर प्रदेश के उपदेश राणा को जयपुर की बगरू पुलिस ने अरेस्ट कर लिया। असामाजिक तत्वों के साम्प्रदायिक सौहार्द्र बिगाडऩे की आशंका को देखते हुए जिला मजिस्ट्रेट बिष्णुचरण मल्लिक ने उदयपुर में अगले आदेश तक जिले में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी थी। इसके अलावा संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा ने भी अगले 24 घंटे तक उदयपुर जिले और राजसमंद में इंटरनेट सेवाएं बंद करने का आदेश दिया।
उदयपुर में भीड़ को खदेडऩे के लिए पुलिस ने बापू बाजार, सवीना, टाउन हॉल, चेतक सर्किल, अशोक नगर सहित कई स्थानों पर लाठीचार्ज किया। लाठीचार्ज में भीड़ को खदेडऩे के दौरान कई स्थानों पर बच्चे व महिलाएं गिर पड़े।
बताया जा रहा है कि राजसमंद में हाल ही हुए नृशंस हत्याकांड के बाद शहर में दिनोदिन रैलियां की जा रही हैं और सोशल मीडिया पर भी भड़काऊ मैसेज वायरल किए जा रहे हैं। इससे शहर का माहौल खराब हो रहा है। कलेक्टर बिष्णु चरण मल्लिक ने बताया कि 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा बंद रहेगी। हालांकि इस दौरान स्कूल-कॉलेज खुले रहे। जिला मजिस्ट्रेट और जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय में विशेष सेल का गठन किया गया है जिससे सोशल मीडिया पर प्रसारित किए जा रहे पोस्ट, चित्र और वीडियो पर कड़ी निगरानी रखते हुए जांच की जा रही है। किसी व्यक्ति से घृणा और विद्वेष फैलाने वाले संदेश, टिप्पणी, चित्र या वीडियो प्रसारित किया जाएगा तो उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। प्रशासन से लोगों से अपील की है कि जिले के साथ संभाग में शांति बनाए रखने में लोग सहयोग करें। आईजी आनंद श्रीवास्तव ने माहौल को देखते हुए फेसबुक को पत्र लिख कहा है कि भड़काऊ टिप्पणियां करने वालों के एकाउंट ब्लॉक किए जाएं। जानकारी के अनुसार उपदेश राणा ने पहले फेसबुक पोस्ट कर 14 दिसंबर को उदयपुर आने की बात कही थी।
राजसमंद और उदयपुर में रैली निकालने की बात भी सामने आई थी। इसको लेकर जिला कलेक्टर ने उपदेश के उदयपुर आने पर बैन लगा दिया था। उपदेश ने फेसबुक लाइव किया था जिस पर समाज विशेष के प्रति कई लोगों ने भड़काऊ टिप्पणियां की थीं। आईजी ने इन लोगों की शिनाख्त कर एकाउंट ब्लॉक करने करने के निर्देश दिए हैँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *