पद्मावत रिलीज नहीं, हंगामे की फिल्म जारी: Padmavat not released, film of turmoil continues

पद्मावत रिलीज नहीं, हंगामे की फिल्म जारी:  Padmavat not released, film of turmoil continues

जयपुर में शांति रैली, उदयपुर में दुकानों में तोडफ़ोड़, चित्तौडग़ढ़ में रोडवेज का संचालन बाधित, अनेक कस्बे बंद

जयपुर। भारी विरोध के बीच गुरुवार को तय समय पर विवादित फिल्म पद्मावत जयपुर सहित राजस्थान में रिलीज नहीं हो पाई लेकिन इस फिल्म के विरोध की फिल्म जारी रही। पुलिस व प्रशासन के माकूल इंतजाम व सिनेमा हाल्स में फिल्म पद्मावत का प्रदर्शन नहीं होने के बाद भी राजस्थान में करणी सेना के विरोध का असर नजर आया। जयपुर में करणी सेना ने शांति रैली निकाली वहीं उदयपुर, चित्तौडग़ढ़ में गुरुवार को रोडवेज बसें रात एक बजे तक बंद कर दी गई। वहीं डूंगरपुर के तीन कस्बे बंद रहे। वहीं उदयपुर में करणी सेना ने रैली निकाली। इस दौरान कुछ लोगों ने दुकानों में तोडफ़ोड़ कर दी।

जयपुर में करणी सेना ने शांति रैली निकाली। रैली भवानी निकेतन से राजपूत सभा भवन के लिए रवाना हुई। रैली में कार्यकर्ताओं ने पद्मावत के निर्माता संजय लीला भंसाली के खिलाफ नारेबाजी की। करणी सेना के नेताओं ने कहा कि बुधवार को गुरुग्राम में स्कूल बस पर करने वाले लोग करणी सेना के नहीं थे। हमारे लोग बच्चों- महिलाओं पर हमला नहीं करते। इस हमले के विरोध में ही करणी सेना ने यह शांति रैली निकाली है।

दूसरी तरफ डूंगरपुर में सीमलवाड़ा और बिछिवाड़ा और सागवाड़ा में ज्ञापन दिया गया। कोटा रामगंजमंडी, नागौर के लांडनू सहित राज्य के कुछ इस्बों में बंद रखा गया। वहीं चित्तौढग़ढ़ में किला पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। यहां चप्पे चप्पे पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया। हालांकि यहां बंद नहीं था लेकिन रोडवेज बसें नहीं चलीं। यहां बुधवार को बसों मे तोडफ़ोड़ के बाद बसें बंद करने का निर्णय किया गया। उदयपुर में करणी सेना ने रैली निकाली। वहीं उदयपोल में रैली के दौरान कुछ लोगों ने सात-आठ दुकानों में तोडफ़ोड़ की। उपद्रवियों ने दुकानों पर रखे तेल के कूपे व बर्तन सड़क पर फेंक दिए। कुछ दुकानदारों से मार-पीट की। इसके इलावा बीएन कॉलेज के सामने भी रैली के दौरान लोगों से अभद्रता की गई।

बिहार के 38 जिलों में विरोध, अखिलेश यादव बोले- भाजपा के लोग ही हिंसा के लिए जिम्मेदार
राजपूत संगठनों के विरोध के बीच फिल्म पद्मावत गुरुवार को करीब सात हजार स्क्रीन्स पर रिलीज हो गई। मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान और गोवा में यह फिल्म थिएटर में नहींं दिखाई जाएगी। सिनेमाघर मालिकों के संगठन मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने इन राज्यों में फिल्म नहीं दिखाने का एलान किया। इस बीच, देश के कई शहरों में मल्टीप्लेक्स और थिएटर की सिक्युरिटी बढ़ा दी गई है। गुडग़ांव और नोएडा में स्कूल की छुट्टी कर दी गई है। फिल्म पद्मावत के विरोध के दौरान यहां बुधवार को एक स्कूल बस पर कुछ लोगों ने पत्थरबाजी की थी। इस मामले में 18 लोगों को अरेस्ट कर कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने इन सभी को 14 की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इस हमले में बच्चों को मामूली चोटें आई थीं। हालांकि बस को नुकसान हुआ था। बिहार के 38 जिलों मेें फिल्म का जबरदस्त विरोध हुआ है। उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का कहना है कि ये सब भाजपा के लोगों का किया धरा है और हिंसा फैलाई जा रही है। मुस्लिम नेता औवेसी ने कहा कि पीएम राजपूतों के सामने घुटने टेक चुके हैं और उनका 56 इंच का सीना सिर्फ मुसलमानों के लिए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *