उपचुनाव: अलवर 63, अजमेर 65.32 और मांडलगढ़ में 78.74 फीसदी मतदान

उपचुनाव: अलवर 63, अजमेर 65.32 और मांडलगढ़ में 78.74 फीसदी मतदान

जयपुर। प्रदेश की अजमेर व अलवर लोकसभा तथा मांडलगढ़ विधानसभा सीट के उपचुनाव के लिए मतदान सोमवार शाम शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गया। हालांकि कुछ स्थानों पर छुटपुट हंगामें के समाचार भी है। खबर लिखे जाने तक अजमेर लोकसभा क्षेत्र में 65.32 प्रतिशत और अलवर लोकसभा क्षेत्र में 63 प्रतिशत मतदान के आंकड़े सामने आए हैं। मांडलगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 78.74 फीसदी मतदान का आंकड़ा है। हालांकि निर्वाचन विभाग की तरफ से निर्णायक आंकड़ा खबर लिखे जाने तक जारी नहीं किया गया था।

अजमेर और अलवर में दोनों प्रमुख दल कांग्रेस व भाजपा कड़े मुकाबले में फंसे दिखाई दे रहे हैं जबकि मांडलगढ़ विधानसभा सीट में कांग्रेस के बागी गोपाल मालवीय ने त्रिकोणीय मुकाबला बना रखा है। अलवर से प्राप्त जानकारी के अनुसार भाजपा के जसवंत यादव और कांग्रेस के करण सिंह यादव के बीच सीधा मुकाबला है। इसी प्रकार अजमेर में भाजपा के रामस्वरूप लांबा और कांग्रेस के डॉ. रघु शर्मा के बीच सीधा मुकाबला है।

मतदान के आंकड़े पिछली बार से कम
माना जा रहा है कि उपचुनाव में पिछले आमचुनाव से मतदान कम रहने वाला है। कम मतदान ने राजनीतिक विश्लेषकों को भी चौंका दिया है और नई परिस्थिति में कोई भी सीधे कुछ भी कहने की स्थिति में नहीं है। गौरतलब है कि 2013 के आमचुनाव में अलवर में 65.25, अजमेर में 68.69 और मांडलगढ़ में 82.01 प्रतिशत मतदान हुआ था। इस बार माना जा रहा है कि ये आंकड़ा कम रहेगा।

दो गांवों में हुआ मतदान का बहिष्कार
अपनी मूलभूत समस्याओं को लेकर दो गांवों में मतदान का पूर्ण बहिष्कार हुआ। इन गांवों के लोग सड़क व पानी की समस्या का निदान नहीं होने के कारण गुस्से में थे। अलवर लोकसभा क्षेत्र के मुण्डावर विधानसभा के गांव लामचपुर और अजमेर लोकसभा क्षेत्र के केकड़ी विधानसभा के गांव मंडा में ग्रामीणों ने मतदान नहीं किया। हालांकि अधिकारियों ने समझाइश की कोशिश की लेकिन वे नहीं मानें।

शिक्षा राज्यमंत्री और कांग्रेस कार्यकर्ताओं में तकरार
अजमेर में संत रामदास स्कूल के पास पोलिंग बूथ के बाहर कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ताओं और शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी के बीच झड़प हुई लेकिन पुलिस ने बीच बचाव किया तथा सभी एकत्र पार्टी कार्यकर्ताओं को पोलिंग बूथ से दो सौ मीटर दूर खदेड़ दिया।

खराब हुई ईवीएम मशीनें
कई जगह ईवीएम मशीनों में तकनीकी खराबी के चलते मतदान बाधित होने के समाचार भी आए हैं। अलवर में तो बहरोड विधानसभा क्षेत्र के उस मतदान केन्द्र पर ही ईवीएम खराब हो गई जहां कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. करण सिंह यादव को मतदान करना था। डॉ. यादव बहुत देर तक खड़े रहे। इसी प्रकार अजमेर उत्तर, दक्षिण, मसूदा, पीसांगन, सावर, किशनगढ़, केकड़ी व नसीदाबाद में कई मतदान केन्द्रों पर ईवीएम में तकनीकी खराबी के समाचार है।

अलवर लोकसभा
1. अलवर ग्रामीण 62.84 प्रतिशत
2. अलवर शहरी 54.28 प्रतिशत
3. बहरोड़ 66.22 प्रतिशत
4. किशनगढ़ बास 65.57 प्रतिशत
5. मंडावर 56.04 प्रतिशत
6. राजगढ़ लक्ष्मणगढ़ 58.07 प्रतिशत
7. रामगढ़ 64.04 प्रतिशत
8. तिजारा 70.13 प्रतिशत
अजमेर लोकसभा
1. अजमेर उत्तर 56.87 प्रतिशत
2. अजमेर दक्षिण 58.98 प्रतिशत
3. दूदू 68.19 प्रतिशत
4. केकड़ी 65.76 प्रतिशत
5. किशनगढ़ 67.40 प्रतिशत
6. मसूदा 65.65 प्रतिशत
7. नसीराबाद 70.28 प्रतिशत
8. पुष्कर 67.64 प्रतिशत

क्यों हो रहा है चुनाव
अजमेर से बीजेपी सांसद सांवरलाल जाट, अलवर से बीजेपी सांसद चांद नाथ योगी और मांडलगढ़ से बीजेपी विधायक कीर्ति कुमारी के निधन के कारण इन तीन सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं।

ये हैं मैदान में
अलवर लोकसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार डॉ. करण सिंह यादव और बीजेपी के डा. जसवंत यादव, वहीं अजमेर लोकसभा सीट पर कांग्रेस के डॉ. रघु शर्मा और बीजेपी के रामस्वरूप और मांडलगढ़ विधानसभा सीट से बीजेपी के शक्ति सिंह और कांग्रेस के विवेक धाकड़ के बीच टक्कर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *