इन्द्र की मेहर के साथ हुई प्राण प्रतिष्ठा: बाबूजी की प्रतिमा का हुआ अनावरण

इन्द्र की मेहर के साथ हुई प्राण प्रतिष्ठा: बाबूजी की प्रतिमा का हुआ अनावरण

चित्तौडग़ढ़। मेवाड़ एज्यूकेशन सोसायटी की ओर से 31 जनवरी से प्रारंभ श्रीमद् भागवत कथा सप्ताह महोत्सव की पूर्णाहुति के बाद बुधवार को कॉलेज प्रांगण में नवनिर्मित लक्ष्मीनारायण मंदिर में प्राण प्रतिश्ठा महोत्सव तथा संस्थापक बाबूजी की प्रतिमा का अनावरण कार्यक्रम आयोजित हुआ।

शहर में आयोजित होने वाले धार्मिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में षामिल हुए नये अध्याय के तहत गदिया परिवार की ओर से सरे कंवर बाई गदिया की सद्प्रेरणा से शहर के उपनगरीय क्षेत्र गांधीनगर में स्थित मेवाड़ गल्र्स कॉलेज परिसर में 31 जनवरी से 6 फरवरी तक श्रीमद् भागवत कथा आयोजित की गई। मंगलवार को भागवत कथा की पूर्णाहुति के बाद बुधवार को इन्द्र की मेहर के साथ मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा का समारोह आयोजित हुआ। सुबह जब प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए यज्ञ हवन चल रहा था उसी दौरान कुछ मिनिटों के लिए हुई बूंदाबांदी ने मानो ऐसा आभास दिया कि स्वयं इन्द्रदेव इस मौके पर प्रकट हुए हो। श्री बगलामुखी षक्तिपीठ खाचरोद के पीठाधीष्वर स्वामी श्री कृश्णानंद जी महाराज, स्थानीय रामद्वारा के संत रमता राम जी महाराज, संत दिग्विजय राम जी महाराज, मंदसौर के आचार्य सूर्यप्रकाष जी आदि के सानिध्य में पूर्णाहुति एवं प्राण प्रतिश्ठा समारोह आयोजित हुआ। प्राण प्रतिश्ठा के बाद भगवान श्री लक्ष्मीनारायण का आकर्शक श्रृंगार कर महाआरती का आयोजन किया गया। प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद मेवाड़ एज्यूकेषन सोसायटी के संस्थापक बाबूजी भंवरलाल जीग दिया की प्रतिमा का अनावरण अखिल भारतवर्षीय महेश्वरी महासभा के सभापति श्यामसुन्दर सोनी एवं अन्य अतिथियों के आतिथ्य में किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *