पीएम मोदी की पत्‍नी सड़क दुर्घटना में घायल, एक की मौत, दो अन्य घायल

पीएम मोदी की पत्‍नी सड़क दुर्घटना में घायल, एक की मौत, दो अन्य घायल

-घायलों को पहले उदयपुर और फिर अहमदाबाद किया रैफर

-प्राथमिक उपचार के बाद जसोदा बेन रिश्तेदारों के साथ रवाना

विवेक वैष्णव, प्रतिनिधि (www. badikhabar.in)

चित्तौडग़ढ़। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की धर्मपत्नी जसोदा बेन बुधवार सुबह अटरू से ऊंझा लौटते समय जिले में बेगूं के निकट काटूंदा मोड के निकट हुए एक सड़क हादसे में चोटिल हो गई। इस हादसे में उनके एक रिश्तेदार की मौत हो गई जबकि दो अन्य गंभीर घायल हो गये। सभी घायलों को पहले जिला मुख्यालय स्थित चिकित्सालय लाया गया तथा वहां से दो गंभीर घायलों को उदयपुर रैफर कर दिया गया। जसोदा बेन सहित अन्य रिश्तेदारों को प्राथमिक उपचार के बाद गंतव्य की ओर रवाना कर दिया गया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पत्नी जसोदा बेन अपने रिश्तेदारों के साथ बारां जिले के अटरू में मंगलवार षाम को आयोजित एक वैवाहिक कार्यक्रम में भाग लेकर बुधवार सुबह एक कार द्वारा लौट रही थी। उनके साथ कार में अन्य 6 जने भी सवार थे। नेशनल हाइवे 27 पर जिले के काटून्दा मोड पर स्कूल के समीप उनकी कार आगे चल रही एक ट्रक में जा घुसी। दुर्घटना इतनी भंयकर थी कि उक्त कार एक तरफ से बिल्कुल चकनाचूर हो गई। इस हादसे में जसोदा बेन के एक रिश्तेदार बसंत भाई की मौत हो गई है जबकि गार्ड जयेन्द्र और विमला गंभीर रूप से घायल हो गये है, जिन्हें उदयपुर रैफर कर दिया गया है। घायलों में जसोदा बेन सहित अन्य तीन रिश्तेदारों को प्राथमिक उपचार के बाद विशेष वाहन के द्वारा अहमदाबाद के लिए रवाना कर दिया गया।

चिकित्सालय में लगा जमावड़ा

इस सड़क हादसे की सूचना मिलने ही प्रशासनिक अमले सहित राजनीतिक गलियारे में भी खलबली मच गई। जिला कलेक्टर इन्द्रजीतसिंह, सहायक पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुधीर जोषी, उपखण्ड अधिकारी सुरेष खटीक, तहसीलदार आदि तुरंत जिला चिकित्सालय पहुंचे। जहां घायलों के पहुंचने पर आधा दर्जन से अधिक चिकित्सकों द्वारा उनका उपचार किया गया। भाजपा के साथ ही कांग्रेसजन भी बड़ी संख्या में जिला चिकित्सालय पहुंचे। चिकित्सालय पहुंचने वालों में भाजपा जिलाध्यक्ष रतन गाडरी, पूर्व विधायक सुरेन्द्रसिंह जाड़ावत, जिला प्रमुख लीला जाट, नगर परिशद् सभापति सुशील शर्मा, प्रधान प्रवीणसिंह, उपप्रधान सी.पी. नामधराणी, नगर परिषद् नेता प्रतिपक्ष संदीप शर्मा, पूर्व पालिकाध्यक्ष रमेषनाथ योगी, भाजयुमों नगर अध्यक्ष गौरव त्यागी, रघु शर्मा, पंचायत समिति सदस्य आजाद पालीवाल सहित कई भाजपा एवं कांग्रेस शामिल थे।

पूर्व मुख्यमंत्री गहलोत ने पूछी कुशलक्षेम

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी जिला चिकित्सालय में मौजूद पूर्व विधायक सुरेन्द्रसिंह जाड़ावत से मोबाईल इस हादसे की जानकारी ली। बाद में पूर्व विधायक जाड़ावत के मोबाईल से ही वहां मौजूद जिला कलेक्टर इन्द्रजीतसिंह से बात कर उपचार की जानकारी ली तथा जसोदा बेन सहित उनके अन्य रिश्तेदारों की कुशलक्षेम पूछी।

पत्रकारों के साथ हुई बदसलूकी

इस सड़क हादसे की सूचना मिलते ही जिला चिकित्सालय कवरेज के लिए पहुंच पत्रकारों के साथ पुलिस अधिकारियों द्वारा धक्का मुक्की की गई। पुलिस प्रषासन द्वारा सिर्फ पत्रकारों के साथ ही धक्का मुक्की की गई जबकि वहां मौजूद बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं को पूरा मान सम्मान दिया गया। वहां मौजूद कुछ पत्रकारों ने विरोध स्वरूप इस कार्रवाई के बारे में जब पुलिस अधिकारियों से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्हें प्रधानमंत्री कार्यालय से सुरक्षा सम्बन्धित विशेष दिशा निर्देश मिले हैं और वे इसकी अनुपालना कर रहे हैं। पत्रकारों से बदसलूकी के इस सम्बन्ध में शाम को जिला मुख्यालय के समस्त पत्रकारों की ओर से पुलिस महानिरीक्षक के नाम एक ज्ञापन देकर सम्बन्धित पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *