पकोड़ा पॉलिटिक्स: ..तो अमित शाह अपने बेटे से क्यों नहीं पकौड़े तलवाते: रेहाना

पकोड़ा पॉलिटिक्स: ..तो अमित शाह अपने बेटे से क्यों नहीं पकौड़े तलवाते: रेहाना

जयपुर। इन दिनों देश में पकौड़े बेचने को लेकर राजनीति पूरे चरम पर है। बीते कई दिनों से जयपुर में राजस्थान कांग्रेस की उपाध्यक्ष अर्चना शर्मा पकैड़े तलकर बजरी खनन से बेरोजगार हुए लोगों की बात उठा रहीं हैं तो वहीं मंगलवार को राजस्थान महिला कांग्रेस की अध्यक्ष रेहाना रियाज जयपुर में कांग्रेस मुख्यालय के बाहर पकोड़े तलती नजर आई।

रेहाना जिस ठेले पर पकौड़े तल रही थी उसे नाम दिया गया मोदी शाह पकौड़ा सेन्टर। दरअसल महिला कांग्रेस का ये विरोध प्रधानमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के पकौड़े तलने की बात पर किया गया। महिला कांग्रेस ने इस विरोध के बाद कहा कि आज देश में रोजाना 30 हजार युवा पढ़ाई पूरी करके बेरोजगारी की लाइन में खड़ा हो रहा है, लेकिन देश के प्रधानमंत्री उन युवाओं को नौकरी दिलाने के बजाय उन्हें पकौड़े तलने से रोजगार की बात कर रहे हैं।

उन्होंने आगे कहा कि पकौड़ा तलना कोई बुरी बात नहीं है लेकिन ये तो साफ है कि पकौड़ा तलने वालों के पास ना तो कोई दूसरा रास्ता होता है ना ही वो शिक्षित होते हैं। ऐसे में पढ़े लिखे नौजवानों को रोजगार देने की बजाय मोदी सरकार पकौडे तलने की सलाह दे रही है, जबकि यूपीए की सरकार सत्ता में थी तो सबको काम देने के लिए योजना बनायी और अगर किसी को रोजगार नहीं मिला तो उसे मनरेगा के जरिये रोजगार दिया। अब अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी पढ़े-लिखे युवाओं को रोजगार के रूप में पकौड़ा तलने की सलाह दे रहे हैं तो फिर अमित शाह के बेटे जय शाह को ये काम क्यों नहीं करवाते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *