सदन में फफक पड़ी विधायक सोना बावरी

सदन में फफक पड़ी विधायक सोना बावरी

कहा, मेरे खोए भाई को कांग्रेस तलाश नहीं पाई, आप तलाश दो

विधानसभा संवाददाता

जयपुर। जमीदारां पार्टी की विधायक सोना बावरी बुधवार को अपने खोए भाई को लेकर इतना भावुक हो गई कि प्रश्नकाल के दौरान सदन में वे फफक पड़ी, साथी विधायकों ने उन्हें संभाला। सोना ने कहा कि 17 साल से मेरा भाई लापता है, कांग्रेस शासन तो उसे ढूंढ नहीं पाई, आप तो ढंूढ दो उसे।

प्रश्नकाल में जमींदार पार्टी की विधायक सोना बावरी ने एक सवाल के दौरान पूरक प्रश्न पूछते हुए कहा कि मेरा चचेरा भाई पांच साल का था और 2000 से गायब है। यह कहने के बाद वे अपनी भावनाओं पर काबू नहीं कर पाई और सीट पर बैठकर रोने लगी। उन्हें देख कई महिला विधायक उनके पास पहुंच कर सांत्वना देने लगी तो वे और जोर से रोने लगी। इसके बाद उन्हें सदन से बाहर ले जाया गया। विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने भी इसे गंभीरता से लेते हुए गृहमंत्री से कहा कि वे इस मामले में ठोस प्रयास करें।

95 फीसदी बच्चे और 89 फीसदी महिलाएं मिली

इससे पहले गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने बताया कि बच्चों के गुम होने के प्रकरणों में जांच पर पिछले तीन वर्षों में 93.85 प्रतिशत और महिलाओं के गुम होने के प्रकरणों मेें जांच पर 89.06 प्रतिशत सफलता मिली है। भीख मांगने वालें बच्चों को उनके परिवारजनों के पास पहुचाने के लिए आपरेशन मिलाप चलाया गया, यह भी सफल रहा है। विधायक चन्द्रभान सिंह के मूल प्रश्न के जवाब में बताया कि प्रदेश में विगत तीन वर्षों में अब तक 476 बच्चों के खोने और 8 हजार 56 अपहरण के प्रकरण दर्ज हुए हैं जबकि 21 हजार 869 महिलाओं के खोने और 6 हजार 683 अपहरण के प्रकरण दर्ज हुए हैं। उन्होंने बताया कि उक्त प्रकरणों में बच्चों के खोने अपहरण के 7 हजार 995 और महिलाओं के खोने अपहरण के 24 हजार 777 प्रकरणों को सुलझाने में पुलिस को सफलता प्राप्त हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *