श्रीगंगानगर को 860 करोड़ रुपए के विकास कार्यों की सौगात, किसानों को मिलेगा उनके हक का पूरा पानी: राजे

श्रीगंगानगर को 860 करोड़ रुपए के विकास कार्यों की सौगात, किसानों को मिलेगा उनके हक का पूरा पानी: राजे

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि इंदिरा गांधी नहरी क्षेत्र का किसान वर्षों से अपने हक के पानी के लिए चिंतित रहता था, आज उस किसान की चिंता हमेशा के लिए खत्म होने जा रही है। नहरों के जल वितरण के जो सुधार कार्य 50 साल में नहीं हो रहे थे, वे अब पूरे होने जा रहे है। इसके लिए उन्होंने आज ही हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर से बातचीत की है। इससे हरियाणा में इंदिरा गांधी नहर की री-लाइनिंग के काम में आ रही बाधाएं दूर होंगी और जल्द ही यह काम शुरू होगा। इससे हमारे किसान भाइयों को सिंचाई के लिए अधिक पानी मिलेगा।

राजे गुरुवार को श्रीगंगानगर में 860 करोड़ रुपए के विकास कार्यों के लोकार्पण/ शिलान्यास समारोह के अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित लोगों को सम्बोधित कर रही थीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसी प्रकार ताजेवाला हैड से यमुना का पानी राजस्थान को मिलने पर भी सहमति बन गई है। यह पानी पाइप लाइन के जरिये राजस्थान लाया जाएगा और इससे प्रदेश के चूरू, सीकर और झुंझुनूं जिले में पेयजल की समस्या का स्थाई समाधान होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगनहर और भाखड़ा नहर का विकास हमारी प्राथमिकता है। हमने पिछले चार साल से अधिक समय में नहरी सुधार के कई ऐसे बड़े काम किये जिससे हमारे किसान भाइयों को उनके हक का पूरा पानी मिलेे।

चार साल में 5500 करोड़ के काम

राजे ने कहा कि हमारी सरकार ने श्रीगंगानगर जिले में 5500 करोड़ रुपए के विकास कार्य करवाए है। जबकि पूर्ववर्ती सरकार ने 5 साल में मात्र 1200 करोड़ रुपए के काम करवाए थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि 194 करोड़ रुपए से गंगानगर शुगर मिल जैसे कई बड़े कामों ने श्रीगंगानगर की काया ही पलट दी है।

जो वादा किया उसे पूरा किया

राजे ने कहा कि मैंने शुगर मिल गंगानगर शहर से बाहर स्थानान्तरित करने का जो वादा किया उसे निभाया। उन्होंने कहा कि हमारी कथनी और करनी में कोई फर्क नहीं है। उन्होंने कहा कि गंगानगर में 165 करोड़ रुपए की लागत से पुराने शुगर मिल परिसर में जो मिनी सचिवालय बनने जा रहा है, वह राजस्थान का पहला ऐसा मिनी सचिवालय होगा जो 7 मंजिला होगा। यहां सभी विभागों के कार्यालय एक ही स्थान पर स्थापित होने से लोगों को सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि बूढ़ा जोहड़ में बनने वाले पैनोरमा का काम इस साल अगस्त माह तक पूरा हो इसके लिए उन्होंने संबंधित लोगों को निर्देश दिये हैं। इससे पहले मुख्यमंत्री ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मिनी सचिवालय का भूमि पूजन किया और इसके नक्शों का अवलोकन किया। उन्होंने समारोह स्थल के बाहर 6 अन्नपूर्णा स्मार्ट वैन का भी शुभारम्भ किया। उन्होंने वहां मौजूद महिलाओं और बच्चों को अपने हाथों से खाना परोसा।

दिव्यांग बच्चों से की मुलाकात

इससे पहले मुख्यमंत्री ने जगदम्बा अंध विद्यालय जाकर वहां के दिव्यांग बच्चों से मुलाकात की। उन्होंने दिव्यांग बच्चों के साथ बातचीत कर उन्हें दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली।

शक्ति गश्ती दल को किया रवाना

मुख्यमंत्री ने राजस्थान पुलिस की महिला सिपाहियों के एक प्रशिक्षित गश्ती दल (शक्ति) को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। मोटर साइकिल पर सवार नीले रंग की वर्दी में यह शक्ति गश्ती दल शहर में गश्त करेगा। विशेष रूप से शिक्षण संस्थाओं के आसपास छात्राओं के लिये मद्दगार बनने के साथ उनका मनोबल बढ़ाने का कार्य भी करेगा। मोटर साइकिल पर सवार इस दल की महिला पुलिसकर्मी वायरलैस, सायरन इत्यादि से लैस हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *