राहत: बढ़ी पेयजल दरों को सरकार ने वापस लिया, आदेश स्थगित

राहत: बढ़ी पेयजल दरों को सरकार ने वापस लिया, आदेश स्थगित

जयपुर। प्रदेश के पेयजल उपभोक्ताओं के लिए अच्छी खबर है। जलदाय विभाग ने आमजन को राहत देते हुए एक अप्रेल से बढ़ाई गई पेयजल की दरों को वापस ले लिया है। इसको लेकर सरकार ने आदेश जारी कर दिया है। एक अप्रैल 2018 से सभी श्रेणियों में जल व अन्य शुल्क को 10 प्रतिशत बढ़ाए जाने के आदेश को अग्रिम आदेश तक स्थगित कर दिया।

विभाग के प्रमुख शासन सचिव रजत कुमार मिश्र ने बताया कि 1 अप्रेल, 2018 से बढ़ी दरें किसी भी तरह के पेयजल शुल्क पर पर लागू नहीं होगी। उल्लेखनीय है कि प्रदेश के लाखों उपभोक्ता इससे लाभान्वित होंगे। चुनावी वर्ष होने के कारण सरकार ने यह फैसला किया है। ताकि आम जनता में नाराजगी न जाने पाये।

राजे ने की दखल

जलदाय विभाग के ताजा फैसले से राज्य के 66 लाख पेयजल उपभोक्ताओं को सीधे फायदा होगा। सीएम वसुंधरा राजे से ग्रीन सिग्नल मिलने के बाद बुधवार को दोपहर बाद यह आदेश जारी किया गया।

जनता पर पड़ता अधिक भार

बता दें कि एक अप्रैल से प्रदेशभर में पेयजल की दर घरेलू कनेक्शन में आठ हजार लीटर तक 1.72 रुपए प्रति हजार लीटर से बढ़ाकर 1.89 रुपए प्रति हजार लीटर की गई थी। औद्योगिक कनेक्शन की दर भी 38.50 की जगह 42.35 रुपए प्रति एक हजार लीटर कर दी गई थी। नए कनेक्शन की दर भी बढ़ा दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *