मोबाइल का लालच दिया और कुंवारे की कर दी नसबंदी

मोबाइल का लालच दिया और कुंवारे की कर दी नसबंदी

जयपुर। बारां जिले में जनसंख्या नियंत्रण के नाम पर टारगेट पूरा करने के चक्कर में एक अविवाहित युवक को पैसे का लालच देकर उसकी नसबंदी कर दी गई। मामला सामने आने पर चिकित्सा विभाग में हडकंप मच गया है। पीडि़त युवक बारां शहर के तलाबपाड़ा क्षेत्र का अशफाक मोहम्मद है। उसकी चिकित्सा विभाग की ओर से परिवार नियोजन के तहत अंता कस्बे में 6 अप्रेल को आयोजित पुरूष नसबंदी शिविर में नसबंदी कर दी गई। बकौल अशफाक चिकित्सा विभाग की एक नर्स और अन्य कर्मचारी उसे 6 हजार की नगदी और एक मोबाइल देने के बहाने अंता ले गए। वहां पर उसकी नसबंदी कर दी।

अशफाक का कहना है कि उसने उनको अविवाहित होने के बारे में बताया भी था, लेकिन चिकित्साकर्मियों ने अनसुना कर दिया। अशफाक ने बताया कि वह अनपढ़ है। उसे 3 हजार रुपए का चैक दिया, लेकिन उसका बैंक में खाता ही नहीं है। बाद में उसने पूरे घटनाक्रम की जानकारी परिजनों को दी। पीडि़त के भाई ने भी चिकित्साकर्मियों पर धोखे से नसबंदी करने का आरोप लगाया है।

उपमुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. सीताराम मीणा का कहना कि उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं है। ऐसा हो नहीं सकता की अविवाहित युवक की नसबंदी कर दी हो। मीणा का कहना कि मामले की जांच करवाता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *