बनारस घराने से छलका कथक का सौंदर्य

बनारस घराने से छलका कथक का सौंदर्य

– उस्ताद अमीर मोहम्मद, पंडित गिरधारी महाराज एवं डॉ रेखा ठाकर को पंडित कन्हैयालाल स्मृति अवार्ड से नवाजा

जयपुर। वरिष्ठ कथक गुरु पंडित कन्हैयालाल जवड़ा स्मृति समारोह में कथक नृत्य की शानदार प्रस्तुतियों ने समां बांध दिया। बुधवार को जवाहर कला केंद्र में आयोजित कार्यक्रम में बनारस घराने के कथक नृत्य विशाल कृष्णा ने अपने घराने की तकनीक को जहां बखूबी जीवंत किया वहीं आज गोपाल लिए ब्रजबाल….रचना पर भाव नृत्य कर प्रशंसा पाई। विशाल ने अपने कथक की शुरुआत गंगा स्तुति से की। बनारस घराने के कथक की तकनीक को उजागर करते तैयारीपूर्ण थिरकते पावों की चपलता ने जहां सुधीजनों का ध्यान आकर्षित किया वहीं लय और ताल के साथ नृत्य के अद्भुत समन्वय ने कई मर्तबा गुणी जनों की दाद पाई। विशाल का नृत्य तीन ताल पर आधारित रहा। जिसमें मयूर की गत की विशेष प्रस्तुति ने सभी को सराबोर कर दिया। फरमाइशी परणों और गतों की शानदार प्रस्तुति के साथ ही फुटवर्क के नायाब अंदाज ने खूब तालियां पाई। विशाल के साथ तबले पर विवेक मिश्रा हारमोनियम पर रमेश मेघवाल पखावज पर पं. प्रवीण आर्य सारंगी पर अमरुद्दीन सितार पर पं. हरिहर शरण भट्ट तबले पर मुजफ्फर ने प्रभावी संगत कर कार्यक्रम को परवान चढ़ाया।

पं.जवडा और मित्तल ने किया आगाज

कार्यक्रम का आगाज जयपुर घराने के वरिष्ठ कथक गुरु एवं पंडित कन्हैयालाल जवड़ा के पुत्र पंडित राजकुमार जवडा, संगीता मित्तल एवं भवदीप जवडा के कथक नृत्य से हुआ। कलाकारों ने जयपुर घराने की विशेषताओं का गुलदस्ता पेश किया।

-वरिष्ठ संगीत गुरुओं का सम्मान

कार्यक्रम में जयपुर के वरिष्ठ संगीत गुरु गायक और तबला नवाज उस्ताद अमीर मोहम्मद खां, कथक गुरु पं. गिरधारी महाराज एवं कथक गुरु डॉ. रेखा ठाकर को इस वर्ष का पंडित कन्हैयालाल जवड़ा स्मृति अवार्ड प्रदान किया गया। सम्मान में शॉल, माला एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *