July 17, 2021

बालिका वधु को सारथी का मिला साथ तो 18 साल बाद बाल विवाह के पिंजरे से आजाद, अब भरेगी भविष्य की उडान

सारथी ट्रस्ट की डाॅ.कृति की मदद से टोंक जिले का पहला बाल विवाह निरस्त, पारिवारिक न्यायालय ने बाल विवाह निरस्त का ऐतिहासिक फैसला सुनाया, दो साल की अबोध उम्र में बाल विवाह के बंधन में बंधी थी टोंक। तकरीबन अठारह साल पहले महज दो साल की अबोध उम्र में बाल विवाह के पिंजरे में कैद टोंक जिले के रानोली ग्राम की बीस वर्षीय बालिका वधु संजू को आखिरकार सारथी ट्रस्ट