Social

विफा का शपथ समारोह: अपने बच्चों में आत्मविश्वास जगाएं- डॉ जोशी

-ईब्ब्ल्यूएस को भी आयु सीमा में छूट व विप्र कल्याण बोर्ड गठन का दिलाया भरोसा जयपुर। सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी ने विप्र समाज से अपने बच्चों में आत्म विश्वास जगाने का आह्वान करते हुए कहा कि ब्राह्मण समाज की वाजिब मांगों को पूरा कराने में समाज के साथ हरदम खड़े हैं। उन्होंने कहा कि ईब्ल्यूएस को सरकारी भर्ती में अन्य आरक्षित वर्ग के समान आयु सीमा में छूट व

रिम्पा के तबला वादन में दिखी साधना की छाप

– चिकित्सा सेवा सम्मान से नवाजी गई हस्तियां जयपुर। अमर मेडिकल एंड रिसर्च सेंटर मानसरोवर की ओर से पिंकसिटी प्रेस क्लब सभागार में आयोजित तालरंग-2021 कार्यक्रम में कोलकाता की अंतरराष्ट्रीय कलाकार रिंपा शिवा ने अपने गुरु पं. स्वप्न शिवा के सबक को साकार कर सुधिजनों की भरपूर वाहवाही पाई। प्राचीन बंदिश एवं फरमाइशी परणों की उम्दा प्रस्तुति ने मोहा वहीं तिरकिट और धिरधिर के बहे रेले ने लय के विविध

बंगाल चुनाव देश की राजनीति की दिशा तय करेगा

बंगाल एक बार फिर चर्चा में है। गुरुदेव रबिन्द्रनाथ टैगोर, स्वामी विवेकानंद, सुभाष चंद्र बोस, औरोबिंदो घोष, बंकिमचन्द्र चैटर्जी जैसी महान विभूतियों के जीवन चरित्र की विरासत को अपनी भूमि में समेटे यह धरती आज अपनी सांस्कृतिक धरोहर नहीं बल्कि अपनी हिंसक राजनीति के कारण चर्चा में है। वैसे तो ममता बनर्जी के बंगाल की मुख्यमंत्री के रूप में दोनों ही कार्यकाल देश भर में चर्चा का विषय रहे हैं।

बिहार विधानसभा चुनाव  लालू पासवान के बिना फीकी है चुनावी रंगत

रमेश सर्राफ धमोरा बिहार विधान सभा चुनाव का प्रचार पूरे शबाब पर है। वहां आगामी 28 अक्टूबर, 3 व 7 नवंबर को 3 चरणों में वोट डाले जाएंगे। वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी। कोरोना के दौर में बिहार में विधानसभा चुनाव करवाना चुनाव आयोग व राज्य सरकार के लिए किसी चुनौति से कम नहीं होगा। बिहार में आए दिन बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं।

भेंट द गिफ्ट फॉर लाइफ की 110 वीं श्रृंखला में जयपुर  घराने का  कत्थक प्रदर्शन

जयपुर संगीत महाविद्यालय द्वारा कोविड-19 के तहत आयोजित ऑनलाइन कार्यक्रम “भेंट द गिफ्ट फॉर लाइफ ” की 110 वीं श्रृंखला में प्रसिद्ध जयपुर घराना से क्षमा कुलर्कणी ने कत्थक नृत्य की शुरुआत गणेश ध्रुपद रचना से कथक नृत्य को आरंभ किया तत्पश्चात ताल झपताल को प्रस्तुत किया | इसके पश्चात खंडिता नायिका की प्रस्तुति में भाव प्रदर्शित किए कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए कजरी की प्रस्तुति दी और कार्यक्रम के

वो यात्रा जो सफलता से अधिक संघर्ष बयाँ करती है

आज भारत विश्व में अपनी नई पहचान के साथ आगे बढ़ रहा है। वो भारत जो कल तक गाँधी का भारत था जिसकी पहचान उसकी सहनशीलता थी, आज मोदी का भारत है जो खुद पहल करता नहीं, किसी को छेड़ता नहीं लेकिन अगर कोई उसे छेड़े तो छोड़ता भी नहीं। गाँधी के भारत से शायद ही किसी ने सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक जैसे प्रतिउत्तर की अपेक्षा की होगी। उसके

ऑनलाइन मार्केट की भी अब जरूरत बन गई हिन्दी

जयपुर, 15 सितम्बर। हिन्दी अब सिर्फ सम्पर्क और आम बोलचाल की भाषा नहीं रह गई है। बाजार को भी इसकी सख्त जरूरत महसूस हो रही है। पूरे देश में हिन्दी को बढ़ावा देने को जिस तरह सामाजिक संगठन काम कर रहे है । उसी तरह से ऑनलाइन मार्केटिंग पर फोकस करने वाली बड़ी कम्पनियां भी हिन्दी में ग्राहकों को सर्फिंग का मौका दे रही है। मोबाइल कम्पनी एयरटेल ने अपने

रक्षा जीवन सोसायटी ने खाना व मास्क वितरित किए

जयपुर। रक्षा जीवन सोसायटी रोटी बैंक की ओर से जगतपुरा स्थित इस्कॉन टेंपल के सामने कच्ची बस्ती क्षेत्र में तथा 22 गोदाम पर रक्षा जीवन सोसायटी ने खाना मास्क वितरित किए। रक्षा जीवन सोसायटी फाउंडर राखी शुक्ला ने बताया कि कच्ची बस्ती के लोगों को कोविड-19 बीमारी से कैसे बचें जागरूक किया। मास्क मास्क प्रदान कर पहनने को कहा और दूरी बनाए रखने के लिए जानकारी दी। बच्चों को खाना

द इन्विज़िबल मैन’: जब डिटेक्टिव बूमराह के सामने आया एक रहस्यमयी शख़्स जिसकी मौजूदगी ही थी मौत का संकेत

दर्शकों के बीच आ चुकी है कहानीकार सुधांशु राय की नवीनतम कहानी – ‘द इन्विज़िबल मैन’ कभी-कभी ऐसा भी होता है कि जो कुछ आज हमारे सामने घट रहा होता है, उसका संबंध अतीत से होता है। और ऐसे में जवाब तलाशने के लिए एक अलग नज़रिया जरूरी हो जाता है। कहानीकार सुधांशु राय की नई स्टोबरी सीरीज़ – ‘द इन्विज़िबल मैन’ दर्शकों को रहस्या-रोमांच से भरपूर एक ऐसे ही

लव के सीबीएसई 10वीं में 94.6 प्रतिशत अंक

अलवर/जयपुर। अलवर के सिल्वर डक स्कूल के छात्र लव माथुर ने सीबीएसई दसवीं बोर्ड में 94.6 प्रतिशत अंक प्राप्त कर जिले का नाम रोशन किया है। आलोक माथुर के पुत्र लव माथुर ने कठिन मेहनत के दम पर ये उपलब्धि हासिल की है। लव का कहना है कि उसे उसकी मां रीना माथुर और पिता आलोक माथुर का पूरा मार्गदर्शन मिला। साथ ही स्कूल के शिक्षकगणों की पे्ररणा से उसने