ऊं त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिं पुष्टिवर्धनम। उर्वारुकमिव बन्धनामृत्योर्मूक्षीय मामुतात।।

ऊं त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिं पुष्टिवर्धनम। उर्वारुकमिव बन्धनामृत्योर्मूक्षीय मामुतात।।

-धार्मिक माह सावन-

-शिव भक्ति में डूब राजस्थान, मंदिरों में गूंजे बोल-बम के जयकारे

-राजधानी जयपुर के गलता में कांवड़ यात्राओं की धूम

जयपुर। भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना का धार्मिक माह सावन और उसके पहले सोमवार को प्रदेश में शिव मंदिरों में बोल बम के जयकारे गूंज उठे।

मंदिरों में सुबह से ही भक्तों की तांता लगा रहा। भगवान शिव की एक झलक पाने के लिए भक्त शिव के दरबार पर पहुंचे। राजधानी जयपुर में सोमवार को शिव जयकारों और बोल-बम की गूंज रही। मानो जयपुर यानी छोटीकाशी के शिवालयों में आस्था का सैलाब उमड़ा। तड़के 4 बजे से मंदिरों के पट खुलने के साथ शहर के प्रमुख शिवालयों झारखंड महादेव, ताडकेश्वर मंदिर और गलता तीर्थ में भक्तों की कतारें लग गईं। सड़कों पर कावड़ यात्री भी बोल बम के उद्घोष के साथ पवित्र जल लेकर भोलेनाथ के दरबार तक पहुंचे। हर उम्र और वर्ग के शिव भक्त यहां दूध जल से बाबा भोलेनाथ का जलाभिषेक कर रहे हैं।

अलसुबह गलता तीर्थ पर मेले का माहौल था। यहां से सैंकड़ों कांवड़ यात्राएं रवाना हुई जो विभिन्न क्षेत्रों में पहुंची और शिवालयों में जलाभिषेक किया। इससे परकोटा क्षेत्र में रामगंज, बड़ी चौपड़ से लेकर चांदपोल तक धार्मिक माहौल हो गया। धर्म और पूजा अर्चना का यह ज्वार पूरे प्रदेश में देखा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *